Samanya Gyan

Samanya Gyan | गंगा नदी की डॉल्फिन 2020

भारत का राष्ट्रीय जलीय जीव
Samanya Gyan
  • गंगा नदी में बसे डॉल्फ़िन को 5 अक्टूबर 2009 से भारत के राष्ट्रीय जलीय जीव का दर्जा दिया गया है।
  • दुनिया में मीठे पानी की डॉल्फ़िन की चार प्रजातियों में से एक गंगा नदी की डॉल्फ़िन है।
  • ये डॉल्फ़िन लगभग अंधे हैं। इनको शिकार का पता अल्ट्रासोनिक तरंगों की ध्वनि के माध्यम से लगाता है।
  • भारत के अलावा, ये डॉल्फ़िन यांग्त्ज़ी नदी (चीन), अमेज़न नदी (दक्षिण अमेरिका) और सिंधु नदी (पाकिस्तान) में पाई जाती हैं।
  • भारत, नेपाल और बांग्लादेश गंगा नदी की डॉल्फिन प्रजातियाँ पाई जाती हैं।
  • ये डॉल्फ़िन स्वच्छ नदी पारिस्थितिक तंत्र में निवास करती हैं।

Samanya Gyan with studyTok.com

  • इन डॉल्फ़िन को भारतीय वन्यजीव संरक्षण अधिनियम की पहली अनुसूची में रखा गया है।
  • इस डॉल्फिन को IUCN द्वारा लुप्तप्राय प्रजाति घोषित किया गया है।
  • भारत के केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय द्वारा 1997 में गंगा संरक्षण कार्यक्रम शुरू किया गया था। यह योजना डॉल्फ़िन की संख्या का एक वैज्ञानिक डेटाबेस बनाने के लिए थी।
  •  विक्रमशिला गंगात्मक डॉल्फिन अभयारण्य बिहार के भंगलपुर जिले में स्थित है। जो देश का एकमात्र डॉल्फिन अभयारण्य है। जो गंगा नदी में 50 किमी में फैला हुआ है।
  • गंगा डॉल्फ़िन की वार्षिक जनगणना की शुरुआत अक्टूबर 2019 से उत्तर प्रदेश के वन विभाग के सहयोग द्वारा की गई थी।

अधिक Samanya Gyan पढ़ने के लिये यहा क्लिक करे

Share Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *